आचार्य विनोबा भावे के अनमोल विचार Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi

Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi- हम हमारे बचपन को फिर से नहीं प्राप्त कर सकते है, यह तो ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे किसी ने पेंसिल से कुछ लिखकर पुन  उसे मिटा दिया है.

-आचार्य विनबा भावे

अगर जीवन में सीमायें नहीं होंगी तो स्वतंत्रता का मोल नहीं होता.

-विनबा भावे

Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi- सत्य को कभी भी किसी के प्रमाण की जरुरत नहीं होती है.

-विनबा भावे

अगर हम हर रोज एक ही काम करते है तो वह हमारी आदत में शामिल हो जाता है और तब हम अन्य कार्य करते हुये भी उस कार्य को कर सकते है.

 -विनबा भावे

Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi- जिस राष्ट्र में चरित्रशीलता नहीं है उसमें कोई योजना काम नहीं कर सकती.

-आचार्य विनबा भावे

ऐसे देश को छोड़ देना चाहिए जहाँ न आदर है, न जीविका, न मित्र, न परिवार और न ही ज्ञान की आशा.

-आचार्य विनबा भावे

Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi- विचारकों को जो चीज़ आज स्पष्ट दीखती है दुनिया उस पर कल अमल करती है.

-आचार्य विनबा भावे

प्रेरणा कार्य आरम्भ करने में सहायता करती है और आदत कार्य को जारी रखने में सहायता करती है.

-आचार्य विनबा भावे

अनुशासन, लक्ष्यों और उपलब्धि के बीच का सेतु है. यकीन मानिए ज्ञान की अपेक्षा अज्ञान ज्यादा आत्मविश्वास पैदा करता है.

-आचार्य विनबा भावे

मौन और एकांत आत्मा के सर्वोत्तम मित्र है.

-आचार्य विनबा भावे

मनुष्य जितना ज्ञान में घुल गया हो उतना ही कर्म के रंग में रंग जाता है.

-आचार्य विनबा भावे

आचार्य विनोबा भावे के अनमोल विचार Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi
आचार्य विनोबा भावे के अनमोल विचार Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi

केवल अंग्रेज़ी सीखने में जितना श्रम करना पड़ता है उतने श्रम में भारत की सभी भाषाएँ सीखी जा सकती हैं.

-आचार्य विनबा भावे

Acharya Vinoba Bhave Quotes in Hindi- मौन और एकान्त, आत्मा के सर्वोत्तम मित्र हैं.

-आचार्य विनबा भावे

अन्ना हजारे के अनमोल विचार 

आत्मशक्ति पर सुविचार

नीम करोली बाबा के अनमोल विचार 

हिन्दुस्तान की एकता के लिये हिन्दी भाषा जितना काम देगी, उससे बहुत अधिक काम देवनागरी लिपि दे सकती है.

-आचार्य विनबा भावे

गरीब वह नहीं जिसके पास कम है, बल्कि धनवान होते हुए भी जिसकी इच्‍छा कम नहीं हुई है, वह सबसे अधिक गरीब है.

-आचार्य विनबा भावे

सेवा के लिये पैसे की जरूरत नहीं होती जरूरत है अपना संकुचित जीवन छोड़ने की, गरीबों से एकरूप होने की.

-विनबा भावे

ज्ञानी वह है, जो वर्तमान को ठीक प्रकार समझे और परिस्थिति के अनुसार आचरण करे.

-आचार्य विनबा भावे

नई चीज सिखने कि जिसने आशा छोड़ दे, वह बुढा है.

-आचार्य विनबा भावे

तगड़े और स्वस्थ व्यक्ति को भीख देना, दान करना अन्याय है. कर्महीन मनुष्य भिक्षा के दान का अधिकारी नहीं हो सकता.

-आचार्य विनबा भावे

ज्ञानी वह है जो वर्तमान को ठीक प्रकार समझे और परिस्थति के अनुसार आचरण करे.

-आचार्य विनबा भावे

भविष्य में स्त्रियों के हाथ में समाज का अंकुश आने वाला है. उसके लिए स्त्रियों को तैयार होना पड़ेगा.

-आचार्य विनबा भावे

खुदा से डरने वाले को और किसी का क्या डर.

-विनबा भावे

जिस राष्ट्र में चरित्रशीलता नहीं है, उसमें कोई योजना काम नहीं कर सकती.

-आचार्य विनबा भावे

यदि आप किसी चीज का सपना देखने का साहस कर सकते हैं तो उसे प्राप्त भी कर सकते हैं.

-आचार्य विनबा भावे

प्रतिभा का अर्थ है बुद्धि में नई कोपलें फूटते रहना. नई कल्पना, नया उत्साह, नई खोज और नई स्फूर्ति प्रतिभा के लक्षण हैं.

-आचार्य विनबा भावे

जिसने ज्ञान को आचरण में उतार लिया, उसने ईश्वर को मूर्तिमान कर लिया.

-आचार्य विनबा भावे

हिन्दुस्तान का आदमी बैल तो पाना चाहता है लेकिन गाय की सेवा करना नहीं चाहता.

-आचार्य विनबा भावे

गणेश चतुर्थी पर कैसें करें भगवान गणेश की पूजा?

रामदेव जी कथा और जीवनी

कृष्ण जन्माष्टमी की सम्पूर्ण जानकारी

गोगा नवमी की सम्पूर्ण जानकारी

गुरू पूर्णिमा पर कैसें करे गुरू की अराधना?

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply