Tuesday, 09 August, 2022

Best Hindi Quotes

Best Quotes in Hindi

single post

  • Home
  • Thoughts on attachment
Business

Thoughts on attachment

यह स्नेहमयपाश ज्ञान और रूखेपन के बिना नही तोड़ा जा सकता है.

-अश्वघोष

हर कहीं, हर किसी वस्तु में मन को मत लगा बैठिए.

-उत्तराध्ययन

Attachment Quotes in Hindi वह (असक्ति) शुभ नहीं है, शान्त है, वह मन की तरह लाल है, मद की तरह तीव्र है, वह बुद्धि को स्थिर नही रहने देती, वह एक वस्तु को दूसरी वस्तु करके दिखाती है.

-रवीन्द्रनाथ ठाकुर

हे अर्जुन ! आसुरी सम्पति के साथ उत्पन्न हुए मनुष्य में दभ, दर्प, अभिमान, क्रोध, निष्ठुरता और अज्ञान होते है.

-वेदव्यास

हे जगदीश, जो लोग कामिनी जनों की ओर घूरने ही के लिए देवालयों को, सवेरे और सायंकाल जाते है, उन्ही की सब कोई यदि प्रशंसा करे तो हाय ! हाय ! आस्तिकता अस्त हो गई समझनी चाहिए.

-महावीरप्रसाद द्विवेदी

संतों की वाणी सुनो, शास्त्र पढ़ो, विद्वान् हो लो, लेकिन अगर ईश्वर को हृदय में स्थान नहीं दिया तो कुछ नहीं किया.

-महात्मा गांधी

Attachment Quotes in Hindi मै तुझे इश्वर को जानने वाला आस्तिक नहीं मानता, क्योंकि तुझसे अनेक हृदयों को दुःख पहुंचाने वाले काम मिले हुए है.

-गुरू गोविन्दसिंह

आस्था तर्क से परे की चीज है. जब चारों ओर अंधेरा ही दिखाई पड़ता है और मनुष्य की बुद्धि काम करना बन्द कर देती है उस समय आस्था की ज्योति प्रखर रूप से चमकती है और हमारी मदद को आती है.

-महात्मा गांधी

0 comment on Thoughts on attachment

Write a comment

Your email address will not be published.