Wednesday, 07 December, 2022

Best Hindi Quotes

Best Quotes in Hindi

single post

  • Home
  • आलोचना पर अनमोल विचार
Business

आलोचना पर अनमोल विचार

निंदक नियरे राखिए, आंगन कुटी छवाय. बिन पानी, साबुन बिना, निर्मल करे सुभाय.

– कबीर दास

Criticism Quotes in Hindi-जब  लोग तुम्हारे खिलाफ बोलने लगे, तब समझ लो तुम तरक्की कर रहे हो.

-गुरु फिल्म  

हम अपनी पीठ स्वयं नहीं देख सकते, किन्तु अगर दूसरे हमें देखकर गन्दगी की बात हमें बतायें, तो हम उसे भी सुनना नहीं चाहते.

-महात्मा गांधी

Criticism Quotes in Hindi-आप जैसा विचार करोगे, वैसे ही आप हो जाओगे.

-स्वामी विवेकानंद

यहाँ के समाचार पत्र आदि मेरे विषय में जो कुछ भी लिखते हैं, उसे मैं अग्निदेव को समर्पित करता हूँ. तुम भी वही करो, यही उचित रीति है.

-विवेकानन्द

आलोचना एक भयानक चिनगारी है.

– डेल कार्नेगी

आपके सबसे असंतुष्ट कस्टमर आपके सीखने का सबसे बड़ा स्रोत हैं.

-बिल गेट्स

जब कोई मनुष्य किसी दूसरे के दोषों पर अंगुली उठाता है तो उसे ध्यान रखना चाहिए कि उसकी शेष तीन अंगुलियां उसी की ओर संकेत रही होती है.

-अज्ञात

Criticism Quotes in Hindi-किसी कि आलोचना मत करो, जिससे तुम्हारी भी कोई आलोचना न करे.  

 – अब्राहम लिंकन

प्रत्येक व्यक्ति की बात सुनो परंतु किसी से भी कुछ मत कहो. प्रत्येक व्यक्ति द्वारा निन्दा सुन लो पर अपना निर्णय सुरक्षित रखो. सही होने की अपेक्षा आलोचना करना कहीं सरल है.

-डिजरायली

सभी लोगों के साथ आमतौर पर समस्या यही होती है कि वे झूठी प्रशंसा के द्वारा बर्बाद हो जाना तो पसंद करते हैं, लेकिन वास्तविक आलोचना द्वारा संभल जाना पसंद नहीं करते हैं.

– अज्ञात

आलोचना लाभदायक होती है.

– फ्लिपकार्ट के संस्थापक सचिन बंसल

आलोचना को छोड़कर हर व्यवसाय सीखने में मनुष्य को अपना समय लगाना चाहिए क्योंकि आलोचक तो सब बन बनाये ही हैं.

-वायरन

दूसरे तुम्हारे विषय में क्या सोचते हैं, इसकी आपेक्षा तुम्हारे विषय में अपने विचार अधिक महत्वपूर्ण हैं.

-सेनेका

औरा की कमजोरियों की तरफ न देखें, औरों की नुक्ताचीनी न करें, अपनी तरफ देखें. अगर हर एक आदमी अपना-अपना कर्तव्य करता है, अपना-अपना फर्ज अदा करता है, तो दुनिया का काम बहुत आगे जाएगा.

-जवाहरलाल नेहरू

Criticism Quotes in Hindi-दूसरों की ग़लतियों की आलोचनाएँ ज़रूर की जाएँ लेकिन हमें अपनी तरफ भी जरूर देखना चाहिए.

-जवाहरलाल नेहरू

आलोचना से कुछ सीखें, काम और अच्छी तरह करें. क्योंकि आलोचना व्यक्ति को गिराती भी है और उस पर सकारात्मक सोच रखने वालों को वह उठाती भी है.

-अज्ञात

0 comment on आलोचना पर अनमोल विचार

Write a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *